Priyanka Chopra Nick Jonas Wedding:क्या निक घोड़े पर कंफर्टेबल होगे और क्यों इतना अनोखा है उम्मेद भवन, यहाँ पढ़ें

बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा का परिवार और अमेरिकन सिंगर निक जोनस का परिवार शादी के लिए जोधपुर निकल चुके हैं. इनकी शादी के फंक्शन्स 29 नवंबर से शुरु हो गए और अब 3 तारीख तक सारी रीति-रिवाजें वहीं से होंगी|

दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह की शादी के बाद अब सभी की नजरें प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस की शादी पर टिकी हुई हैं. बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा का परिवार और अमेरिकन सिंगर निक जोनस का परिवार शादी के लिए जोधपुर निकल चुके हैं. इनकी शादी के फंक्शन्स 29 नवंबर से शुरु हो गए और अब 3 तारीख तक सारी रीति-रिवाजें वहीं से होंगी| सबकी उम्मीदों से अलग ये शादी फुल देसी स्टाइल में जोधपुर में होने वाली है. 

प्रियंका और निक एक दूसरे को पिछले दो सालों से जानते हैं और प्रियंका के इस जन्मदिन पर दोनों ने अमेरिका में सगाई की.

खबर है कि 2 और 3 दिसंबर को शादी, हिंदू और इसाई दोनों रीति रिवाजों से होगी. इसमें संगीत, शादी और रिसेप्शन तीन प्रोग्राम होंगे. शादी की रस्में उमैद भवन में होंगी. इस वेन्यू को बुक करने में 60 हजार डॉलर यानी करीब 43 लाख रुपए खर्च हुए हैं. बता दें राजा उमैद सिंह का बनवाया ये महल अब ताज होटल ग्रुप का है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस ने अपनी शादी में भी मोबाइल फोन्स का इस्तेमाल बैन होगा। इसके अलावा शादी में शामिल होने वाले मेहमानों को निजता के क्लॉज पर भी साइन करना होगा।

शादी में निक जोनस राजसी अंदाज में बग्घी पर सवार होकर वेडिंग प्लेस तक पहुंचेंगे। वोग मैग्जीन को दिए इंटरव्यू में प्रियंका चोपड़ा ने पूछा- क्या तुम घोड़े पर कंफर्टेबल होगे। इस पर निक ने कहा- हां, मैं इंतजार नहीं कर सकता हूं। 

प्रियंका ने वोग मैग्जीन को बताया कि- एक लड़की के तौर पर मैं कहना चाहूंगी कि मुझे कभी भी कोई ऐसा शख्स नहीं मिला जो यह कहता कि मुझे तुम्हारा महत्वाकांक्षी होना पसंद है। हमेशा उल्टा ही हुआ। लेकिन निक ने पहली बार मुझसे ये कहा। मुझे उनका ये स्वभाव काफी अच्छा लगा। 

प्रियंका और निक के बीच उम्र के बड़े फासले पर एक्ट्रेस कहती हैं- निक की उम्र में मुझसे भले ही कम हैं, लेकिन मैच्योरिटी के मामले में ज्यादा हैं। वह मेरे स्वभाव की काफी इज्जत करते हैं। मुझे यही बात सबसे अच्छी लगी।

उम्मीद भवन पैलेस 

उम्मेद भवन पैलेस महाराजा उम्मेद सिंह के समय पर 1929 में बनाया गया था, उम्मेद भवन पैलेस का नाम इसके संस्थापक महाराजा उम्मेद सिंह के नाम पर रखा गया है। चित्तर पहाड़ी पर होने के कारण यह सुंदर महल 'चित्तर पैलेस' के रूप में भी जाना जाता है|महल को तराशे गये बलुआ पत्थरों को जोड़ कर बनाया गया था। महल के निर्माण के दौरान पत्थरों को बाँधने के लिये मसाले का उपयोग नहीं किया गया था। यह विशिष्टता बड़ी संख्या में पर्यटकों को इस महल की ओर आकर्षित करती है। यह दुनिया में सबसे बड़ा निजी घरों में से एक और अधिक शानदार इमारतों में से एक के रूप में भी मान्यता प्राप्त है। यह केवल 20 वीं सदी में निर्मित महल है।

Add new comment

Filtered HTML

  • Web page addresses and e-mail addresses turn into links automatically.
  • Allowed HTML tags: <a> <em> <strong> <cite> <blockquote> <code> <ul> <ol> <li> <dl> <dt> <dd>
  • Lines and paragraphs break automatically.

Plain text

  • No HTML tags allowed.
  • Web page addresses and e-mail addresses turn into links automatically.
  • Lines and paragraphs break automatically.